Home जिले आधी रात इस गांव में गजराज का आतंक… तब दहशत में दिखे...

आधी रात इस गांव में गजराज का आतंक… तब दहशत में दिखे ग्रामीण…खौफ के बीच उठाया ये कदम

शैलेश गुप्ता@कोरिया। सोनहत विकास खंड देवगढ़ रेंज के ग्राम पंचायत कैलाशपुर के आश्रित ग्राम ओरगई में बीते रात हाथियों ने दस्तक दी। ग्राम केशगवा के चौकीदार आनंद राम के घर उनकी बॉड़ी का दिवाल तोड़कर हाथी जंगल की ओर जा निकला। आज पूरा दिन ग्रामीणों के अनुसार घुघरा और कैलाशपुर के मध्य जोगीमठ के जंगल […]

आधी रात इस गांव में गजराज का कहर… तब दहशत में दिखे ग्रामीण…खौफ के बीच उठाया ये कदम

शैलेश गुप्ता@कोरिया। सोनहत विकास खंड देवगढ़ रेंज के ग्राम पंचायत कैलाशपुर के आश्रित ग्राम ओरगई में बीते रात हाथियों ने दस्तक दी। ग्राम केशगवा के चौकीदार आनंद राम के घर उनकी बॉड़ी का दिवाल तोड़कर हाथी जंगल की ओर जा निकला। आज पूरा दिन ग्रामीणों के अनुसार घुघरा और कैलाशपुर के मध्य जोगीमठ के जंगल में हाथी घूमता रहा।

तब खबर छत्तीसी की टीम ने घटना स्थल का जायजा लिया। देखा हाथी ने घर का हाता को 2 जगह गिराया था। साथ ही केले के पेड़ को नुकसान पहुंचाया । साथ ही जमींन पर हाथी के पांव के तीन निशान भी देखने को मिले। परिवार के सदस्यों ने बताया कि कल रात 3 बजे अचानक हाता बाउंड्री के गिरने की आवाज सुनाई दी। तब हम लोग सहम गए। बाहर निकालकर देखा तो हाथी के पांव के निशान थे। बाउंड्री को गिराकर हाथी वापस लौट रहा था। ये नजारा देखकर हम सहम गए।

उसके बाद से गांव में हाथी को लेकर दहशत का माहौल है। देवगढ़ क्षेत्र के परिक्षेत्राधिकारी ने बताया कि एक हाथी के घुघरा केशगवा के जंगल में आने की जानकारी है। स्थिति पर नज़र रखे हुए है किंतु फारेस्ट विभाग का न तो कोई अधिकारी अभी तक प्रभावित परिवार से मिलने नहीं पंहुचा है। कोरोना के कहर के चलते वैसे भी लोग घरों से बाहर नहीं निकल रहे हैं। ऐसे में ग्रामीण दहशत में हैं। रतजगा करने को विवश है।