Home राजनीति छत्तीसगढ़ के शहरो में कांग्रेस का परचम लहरायेगा, नगरीय निकाय चुनावों में...

छत्तीसगढ़ के शहरो में कांग्रेस का परचम लहरायेगा, नगरीय निकाय चुनावों में कांग्रेस पिछली जीत के रिकार्ड को तोड़ेगी

रायपुर। नगरीय निकाय चुनावों की घोषणा पर प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि चुनाव के लिये कांग्रेस तैयार है। नगरीय निकाय चुनाव में मुद्दों के मामले में कांग्रेस भाजपा से बढ़त ले चुकी है। अधिकांश नगरीय निकायों में नगर निगम, नगर पालिका, नगर पंचायत में […]

भाजपा ने महाराष्ट्र के जनादेश का चीरहरण किया: कांग्रेस

रायपुर। नगरीय निकाय चुनावों की घोषणा पर प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि चुनाव के लिये कांग्रेस तैयार है। नगरीय निकाय चुनाव में मुद्दों के मामले में कांग्रेस भाजपा से बढ़त ले चुकी है। अधिकांश नगरीय निकायों में नगर निगम, नगर पालिका, नगर पंचायत में कांग्रेस को जीत हासिल होगी। छत्तीसगढ़ की जनता और कांग्रेसजन नगरीय निकाय चुनाव में भी विधानसभा चुनाव की ही तरह कांग्रेस उम्मीदवारों की जीत सुनिश्चित करने और भाजपा को उखाड़ फेकने के लिये प्रतिबद्ध है। छत्तीसगढ़ के शहरो में कांग्रेस का तिरंगा ही फहरायेगा।

प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने दावा किया है कि कांग्रेस ने इन स्थानीय निकाय के चुनावों में न सिर्फ अपनी पिछली जीत दोहरायेगी। अबकी बार और अधिक निकाय क्षेत्रों में कांग्रेस के प्रत्याशी चुनाव जीत कर आयेंगे। पिछले चुनाव में कांग्रेस ने विपक्ष में रहते हुये 6 नगर निगम, 20 नगर पालिका और 52 नगर पंचायतों में जीत हासिल किया था। तब कांग्रेस विपक्ष में थी आज राज्य में कांग्रेस की सरकार है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की कांग्रेस सरकार का जनहितकारी योजनायें और पिछले 10 महिने के किये गये कार्यो से आगामी निकाय चुनावों में कांग्रेस की विजय के बड़े आधार बनेंगे। कांग्रेस सरकार ने 400 यूनिट तक बिजली का बिल आधा किया है, किरायेदारों को अपना खुद का घर देने की योजना शुरू है। सरकारी भूमि में काबिज लोगों को स्थायी पट्टा देने का काम कांग्रेस सरकार कर रही है। शहरी क्षेत्रों में व्यवसाय कर रहे व्यापारियों को राहत देने गुमाश्ता लाइसेंस बनाने की प्रक्रिया आजीवन कर दी गयी है। राज्य में निवासरत सभी परिवारों को 35 किलो चावल देने की योजना कांग्रेस सरकार ने शुरू की है। स्कूलों, कालेजों में शिक्षकों की भर्ती शुरू करने के साथ सरकारी नौकरी के दरवाजे खोले गये। सभी वर्गो को सरकारी नौकरी में आनुपातिक प्रतिनिधित्व देने के लिये आरक्षण की व्यवस्था की गयी। लोगों को राहत देने भूमि के डायवर्सन के नियम सरल किये गये 5 डिसमिल से कम के प्लाटों को भाजपा सरकार द्वारा बंद की गयी रजिस्ट्रियों को शुरू करवा दिया गया। आम अदमी को राहत देने जमीनों की कलेक्टर गाईड लाईन की दरों में 30 फीसदी की कमी की गयी है। किसानों का कर्जा माफ करने और धान की खरीदी 2500 रू. प्रतिक्विंटल करने से किसानों के साथ-साथ राज्य की अर्थव्यवस्था पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ा है। देश में फैली आर्थिक मंदी से बहुत हद तक राज्य के लोगों को राहत है। जिसका सबसे बड़ा लाभ शहरी क्षेत्रों को मिला है।

प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि राज्य की कांग्रेस सरकार ने पिछले 10 महिनों में राज्य के लोगों को सशक्तिकरण और उनकी परेशानियों को दूर करने वाले निर्णय लिये है। सरकार के कामों को व्यापक जनसमर्थन मिल रहा है। जनता अपने निकाय क्षेत्रों के बेहतर विकास के लिये कांग्रेस प्रत्याशियों को ही चुनेगी।

प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने भाजपा की केन्द्र सरकार की नीतियों पर हमला करते हुये कहा है कि भाजपा की गरीबों खासकर मजबूर किसानों से की गयी धोखाधड़ी और शहरी जनता खासकर व्यापारी विरोधी रवैया आगामी नगरीय निकाय चुनाव में भाजपा के पतन का कारण बनेगा। अच्छे दिनों का वादा करने वाली भाजपा के राज में आम आदमी बुरे दिनों को झेलने को मजबूर है, प्याज और अनाजों खासकर दालों के दामों में बेतहाशा बढ़ोतरी हो गयी, अंतर्राष्ट्रीय बाजार में पेट्रोलियम पदार्थो के दामों में गिरावट के बाद भी मोदी सरकार की मुनाफाखोरी के कारण लोगो को इसका फायदा नहीं मिल पा रहा, अपेक्षाकृत महंगा पेट्रोल-डीजल खरीदना पड़ रहा है।